be careful now bank accounts are getting empty without otp keep these precautions

सावधान अब बिना OTP के खाली हो रहे बैंक अकाउंट, कही आपका तो नहीं अगला नंबर, जाने बचने का तरीका be careful now bank accounts are getting empty 2023

be careful now bank accounts are getting empty without otp keep these precautions :नमस्कार दोस्तों, जैसे ही लोग ऑनलाइन ट्रांजैक्शन के जरिए अपनी बैंकिंग शिवम को सुविधाजनक बना रहे हैं उसी प्रकार ऑनलाइन ट्रांजैक्शन के माध्यम से स्कैमर लोगों के बैंक अकाउंट को खाली कर कर जा रहा है। हमारे देश में ऑनलाइन धोखेबाजी के मामले बहुत ज्यादा देखने को मिलते हैं इन मामलों में हर दिन बढ़ोतरी हो रही है।

Be careful now bank accounts are getting empty without otp keep these precautions

ग्राहकों के पैसे को साफ करने के लिए उसके मरने नए नए तरीके इजाद किए हैं। Scammer साइबर फ्रॉड को अंजाम देने के लिए कुछ ऐसे ही तरीकों का इस्तेमाल करते हैं इस आर्टिकल में हम आपको कुछ ऐसे ही तरीकों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन को ध्यान में रखकर आप अपने अकाउंट को सिक्योर कर सकते हैं।

साइबर फ्रॉड का एक नया तरीका है बैंक से लिंक आपकी यूपीआई खाते को टारगेट किया जाता है कई लोगों के साथ ऐसा हो चुका है इसलिए यह आपके लिए जानना बहुत ही आवश्यक है ताकि आप इसका शिकार ना हो अगर कोई भी अनजान व्यक्ति आपसे फोन पर इस तरह का काम करने को कहे तो तुरंत फोन काट दे और नंबर की रिपोर्ट करें इससे आप स्वयं बचेंगे और अन्य लोगों के साथ इस प्रकार की घटना होने से उन्हें भी बचा सकते हैं।

स्कैमर कैसे करता है ठगी?

चलिए हम आपको एक उदाहरण के माध्यम से सुनाते हैं पर्यावरण एक सत्य घटना पर आधारित है। इस उदाहरण में उस व्यक्ति के नाम को गोपनीय रखा जाएगा। राहुल नाम के एक व्यक्ति ने अपने लिए एक शॉपिंग वेबसाइट से ₹30000 का फोन ऑर्डर किया। फोन को 17 मई को डिलीवरी होना था, लेकिन राहुल के पास 16 मई को एक कॉल आया और कॉल करने वाले शख्स ने खुद को शॉपिंग वेबसाइट का कस्टम केयर बताया। इसके बाद उसने राहुल को उसके समान की डिटेल बताई और कहा कि उसे एड्रेस कंफर्म करना है।

एड्रेस कंफर्म करने के लिए लिंक

राहुल पहले ही अपने एड्रेस शॉपिंग वेबसाइट पर डाल चुका था और वह कहीं ना कहीं इस स्कैम के प्रति जागरूकता राहुल को तुरंत समझ आ गया कि वह एक स्कैमर द्वारा की गई कॉल है। राहुल ने कॉल पर बात जारी रखी और ठग ने कहा कि आपको एक लिंक भेजा जा रहा है उस पर क्लिक करके एड्रेस कंफर्म करना है।

राहुल ने जैसे ही उस लिंक पर क्लिक किया उसके बाद एक यूपीआई गेटवे खुल गया। इसमें उसके बैंक की डिटेल मांगी गई थी। राहुल ने जब जब स्कैमर से इसके बारे में बात की थी। उसके मैंने कहा कि उसको एड्रेस प्रूफ कंफर्म करने के लिए ₹5 की पेमेंट करनी होगी। ध्यान दें अगर आप कहीं पर भी अपनी बैंक डिटेल डाल देते हैं तो उसके जरिए आपका बैंक खाता खाली हो सकता है।

ठग से सामना

इसके बाद राहुल ने कहा कि मैं समझ चुका हु की मैं किसी कस्टमर केयर से नहीं बल्कि एक ठग से बात कर रहा हु। इसी के साथ राहुल ने उसको बताया कि उसने इस घटना का एक वीडियो बनानी है। यह सब ठीक-ठाक गुस्सा हो गया और वीडियो डिलीट करने की धमकी दी और इसके बाद स्केमर फोन कट कर दिया।

तो दोस्तों इस वास्तविक उदाहरण के माध्यम से आप भी इस प्रकार के स्कैम होने से बच सकते हैं। ध्यान रखिए अपने बैंक डिटेल किसी के साथ भी शेयर ना करें।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top